वोडाफोन का आइडिया में विलय, बनेगा सबसे बड़ा Network

नई दिल्ली (एजेंसी) रिलांयस जियो 4जी के तहलके के बाद टेलिकॉम कंपनी में घमासान मचा है। इसी को देखते हुए टेलीकॉम ऑपरेटर कंपनी वोडाफोन इंडिया का आइडिया सेल्युलर में विलय हो गया। इस समझौते के बाद आइडिया सेल्युलर के पास 54.9 फीसदी और वोडाफोन के पास 45.1% फीसदी की हिस्सेदारी रहेगी। विलय के एलान के बाद आइडिया सेल्युलर के शेयरों में 5% का उछाल देखा गया है। आइडिया के प्रमोटर्स के पास एकाधिकार होगा कि वह किसे चेयरपर्सन नियुक्त करते हैं। हालांकि सीईओ और सीओओ की नियुक्ति को लेकर दोनों प्रमोटर मिल कर फैसला लेंगे और दोनों की ही सहमति इसके लिए आवश्यक होगी।
वायरलेस सब्सक्राइबर के लिहाज से फिलहाल वोडाफोन दूसरे और आइडिया तीसरे स्थान पर है जबकि भारतीय एयरटेल पहले नंबर पर है। इस समझौते के बाद आइडिया-वोडाफोन सबसे बड़ा नेटवर्क बन जाएगा। बता दें कि भारती एयरटेल की बात करें तो चार सालों में पहली बार अक्टूबर दिसंबर तिमाही में कंपनी ने सबसे कम प्रॉफिट दर्ज किया, जबकि इसी पीरियड में आइडिया सेल्युलर ने नुकसान के आंकड़े पेश किए। भारती एयरटेल ने इस साल की शुरुआत में ऐलान किया था कि वह नॉर्वे की टेलिनॉर को 6 राज्यों में खरीद चुकी है।

Related Posts

About The Author

Add Comment