वेस्टइंडीज के व्यवहार पर क्यों भड़के ब्रायन लारा, पढ़ें पूरी खबर

loading...

लंदन। विश्व क्रिकेट बड़े-बड़े गेंदबाजों के छक्के छुड़ा देने वाले कैरेबियन खिलाड़ी ब्रायन लारा वेस्टइंडीज के व्यवहार से बेहद नाराज़ है। लॉड्स में एमसीसी स्प्रिट ऑफ क्रिकेट लेक्चर के दौरान महान खिलाड़ी ने कहा कि 90 के दशक में विश्व क्रिकेट में बादशाहत के बावजूद वेस्टइंडीज टीम खेल भावना से नहीं खेलती थी। लारा ने 1989 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई सीरीज का उदाहरण देते हुए कहा कि कोलिन क्रॉफ्ट से बहस के बाद माइकल होल्डिंग ने अंपायर को कंधा मार दिया था, जो कि बिल्कुल सही नहीं था। उस समय 15 सालों से लगातार वेस्टइंडीज सभी टेस्ट सीरीज जीत रही थी। इसके बाद एक बार माइकल यह भूल गए कि वह क्रिकेटर हैं और गुस्से में स्टंप्स को ही किक मार दी। इन घटनाओं का उस समय विश्व क्रिकेट पर काफी बुरा असर पड़ा था।
लारा के मुताबिक क्रिकेट की दुनिया में ऑस्ट्रेलिया से पहले वेस्टइंडीज का राज था। उस समय वेस्टइंडीज के पास सबसे खतरनाक बल्लेबाज और गेंदबाजों की लंबी जमात थी। इन्हीं के दम पर वेस्टइंडीज ने लगभग डेढ़ दशक तक टेस्ट सीरीज पर बादशहत कायम रखी थी। जब दूसरी टीमें वेस्टइंडीज को टक्कर देने लगीं, तो इंडीज के खिलाड़ियों ने बेईमानी शुरू कर दी। बता दें कि वेस्टइंडीज टीम को दुनिया में सबसे ज्यादा मस्त-मौला और टेंशन फ्री टीम माना जाता है। इसलिए लारा का बयान बेहद महत्तपूर्ण है।

loading...

Related Posts

About The Author

Add Comment