इलाहाबाद: संगम नगरी में भी फर्जी बाबाओं का बसेरा, अखाड़ा परिषद जल्द करेगा खुलासा

loading...

इलाहाबाद। आसाराम, रामपाल और गुरमीत राम रहीम जैसे कई कुकर्मी बाबाओं पर शिकंजा कसने के बाद फर्जी बाबाओं की तलाश तेज हो गई है। संगम नगरी में खुद को साधु बताकर धर्म को बदनाम करने वाले बाबाओं का जमावड़ा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने बड़ा फैसला करते हुए 11 फर्जी बाबाओं की सूची तैयार की है। आगामी 10 सितंबर को इलाहाबाद के मठ बाघम्बरी गद्दी में बुलाई गई बैठक में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद इन बाबाओं के नाम सार्वजनिक करेगा।
डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम साध्वियों से यौन शोषण के आरोप में जेल में सजा काट रहा है। इसके पहले निर्मल बाबा, रामपाल, राधे मां सहित कई धर्मगुरु विवादों में रहे हैं। इसके मद्देनजर अखाड़ा परिषद की होने वाली बैठक का प्रमुख मुद्दा फर्जी बाबाओं पर नकेल लगाना होगा। परिषद अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि का कहना है कि फर्जी धर्मगुरुओं से सनातन धर्म के स्वरूप को काफी नुकसान पहुंचा है। हम फर्जी धर्मगुरुओं की सूची बनाकर उसे केंद्र व सभी राज्य सरकारों, चारों पीठ के शंकराचार्य व 13 अखाड़ा के पीठाधीश्वरों को भेजकर सामूहिक बहिष्कार करेंगे। इसके अलावा किन्नर व परी अखाड़ा का बहिष्कार करने का प्रस्ताव पारित होगा। अलग-अलग मंचों पर कथावाचन करने वाले धर्मगुरुओं पर संत लिखने पर रोक लगाई जाएगी।

loading...

Related Posts

About The Author

Add Comment