कॉपीराइट उल्लंघन में फंसे CM नीतीश, हाईकोर्ट ने ठोंका 20,000 रुपये का जुर्माना

loading...

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर दिल्ली हाईकोर्ट ने कॉपीराइट उल्लंघन के एक मामले में 20 हजार रुपये का जुर्माया ठोंका है। जेएनयू के शिक्षाविद से नेता बने अतुल कुमार सिंह ने याचिका में आरोप लगाया कि पटना स्थित ‘एशियन डेवलपमेंट रिसर्च इंस्टीट्यूट द्वारा अपने सदस्य सचिव शैबाल गुप्ता के जरिए और मुख्यमंत्री कुमार के अनुमोदन से प्रकाशित पुस्तक ‘स्पेशल कैटेगरी स्टेटस : ए केस फॉर बिहार’ उनके शोध कार्य का चुराया हुआ संस्करण है। सीएम नीतीश की ओर से हाईकोर्ट दाखिल अर्जी में कहा गया था कि उनका अन्य प्रतिवादियों और पुस्तक से किसी तरह का प्रत्यक्ष या परोक्ष संबंध नहीं है। कुमार ने कहा कि उन्होंने इस पुस्तक को केवल अनुमोदित किया है, लिखा नहीं है। हाईकोर्ट ने नीतीश कुमार की दलीलों को खारिज करते हुए कहा कि कि जेएनूय के दो सुपरवाइजरों ने शिक्षाविद अतुल कुमार सिंह की कृति की वास्तविकता को प्रमाणित किया है और इसे पुस्तक विमोचन से एक दिन पहले 14 मई, 2009 को विमोचित किया गया।

loading...

Related Posts

About The Author

Add Comment