घाटी में अब तक 34 की मौत, गिलानी अरेस्ट

loading...

श्रीनगर (एजेंसी) कश्मीर में हालात सामान्य होने का नाम ही नहीं ले रहे। पंपोर और कुपवाड़ा शहरों समेत कश्मीर घाटी के कई हिस्सों में कर्फ्यू जारी है। शेष घाटी में लोगों के आने-जाने पर भी रोक लगी है। प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच हुई झड़पों में मरने वालों की संख्या 34 के पार पहुंच गई है।
वहीं ख़बर है कि प्रतिबंधों का उल्लंघन करने पर कट्टरपंथी हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। गिलानी ने शहर के निचले इलाके में शहीदों के कब्रिस्तान तक मार्च निकालने की कोशिश की थी। गिलानी ने वर्ष 1931 में राजशाही के खिलाफ लड़ाई में अपनी जान गंवाने वालों की 85वीं बरसी मनाने के लिए शहीदों के कब्रिस्तान की ओर मार्च निकालने की कोशिश की थी। सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ों में नागरिकों की मौतों का विरोध करने के लिए अलगाववादियों ने भी बंद बुलाया है। जिसके चलते आम जनजीवन बहाल नहीं हो पाया। मोबाइल इंटरनेट और रेल सेवाएं अब भी निलंबित हैं। दक्षिण कश्मीर के चार जिलों में मोबाइल फोन सेवा आंशिक तौर पर निलंबित की गई है। मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद होने से नौकरीपेशा, डॉक्टरों और छात्रों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

loading...

Related Posts

About The Author

Add Comment